राष्ट्रीय

प्रिया रमानी के खिलाफ MJ अकबर के मानहानि मामले में आज दिल्ली की अदालत सुनाएगी फैसला

Khaskhabar/साल 2018 में मीटू अभियान (Me Too Campaign) के दौरान पत्रकार प्रिया रमानी (Journalist Pria Ramani) ने पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री एमजे अकबर (MJ Akbar) के खिलाफ शोषण का आरोप लगाया था. इस मामले को लेकर पूर्व केंद्रीय मंत्री ने मानहानि का मुकदमा दायर किया था. इसी मामले में राउज एवेन्यू की विशेष कोर्ट आज दोपहर 2 बजे के बाद फैसला सुनाएगी. अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट रविन्द्र कुमार ने अकबर (MJ Akbar) और रमानी (Journalist Pria Ramani) की दलीलें पूरी होने के बाद मामले में फैसला एक फरवरी को सुरक्षित रख लिया था.

Khaskhabar/साल 2018 में मीटू अभियान (Me Too Campaign) के दौरान पत्रकार प्रिया रमानी (Journalist Pria Ramani) ने पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री एमजे अकबर (MJ Akbar) के खिलाफ शोषण का आरोप लगाया था. इस मामले को लेकर पूर्व केंद्रीय मंत्री ने मानहानि का मुकदमा दायर किया था. इसी मामले में राउज एवेन्यू की
Posted by khaskhabar

अकबर पर यौन उत्पीड़न का आरोप

2018 में मीटू मुहिम के दौरान रमानी ने अकबर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था. अकबर ने 15 अक्टूबर, 2018 को रमानी के खिलाफ उनकी छवि खराब करने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी. घटना के बाद अकबर ने 17 अक्टूबर, 2018 को केन्द्रीय मंत्री के पद से इस्तीफा दिया. उन्होंने मीटू मुहिम के दौरान तमाम महिलाओं द्वारा उनके खिलाफ लगाए गए यौन उत्पीड़न के सभी आरोपों को खारिज किया था.राउज एवेन्यू की विशेष अदालत ने फैसला सुरक्षित रख लिया था. विशेष अदालत आज 10 फरवरी को दोपहर 2 बजकर 30 मिनट पर फैसला सुनाएगी.

यह भी पढ़े—UAE का अंतरिक्ष यान आज कर सकता है मंगल की कक्षा में प्रवेश,साथ ही तीन देशों के पहुंच रहे हैं अंतरिक्ष यान

दोनों पक्षों ने आरोपों को नकारा था

कोर्ट ट्रायल के दौरान पक्षों की तरफ आरोपों को नकारा गया था. प्रिया रमानी का कहना था कि उन्होंने कोई मानहानि नहीं की. जो उनके साथ हुआ था, बस वही बयां किया. वहीं अकबर का कहना था कि उनकी साफ-सुथरी छवि को खराब किया गया. इससे उनके निजी जीवन पर बुरा असर पड़ा. इस मामले में दोनों पक्षों की तरफ से अंतिम बहस दो बार हुई थी. क्योंकि एक बार अंतिम बहस पूरी होने के बाद मजिस्ट्रेट का तबादला हो गया था. इसके बाद नियुक्त हुए मजिस्ट्रेट ने फिर से अंतिम बहस सुनी थी.

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|