राष्ट्रीय

प्रवासी सम्मेलन:कार्यक्रम में बोले नरेंद्र मोदी,आज नई पीढ़ी भले ही जड़ों से हो दूर लेकिन उनका जुड़ाव भारत से बढ़ा

Khaskhabar/प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 16वें प्रवासी भारतीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि आज नई पीढ़ी भले ही जड़ों से दूर हो गई हो, लेकिन उनका जुड़ाव भारत से बढ़ा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस बार कोरोना काल में भारत के लोगों ने शानदार काम किया है और ये लोग आस पास के लोगों के प्रति मददगार दिखे.

Khaskhabar/प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 16वें प्रवासी भारतीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि आज नई पीढ़ी भले ही जड़ों से दूर हो गई हो, लेकिन उनका जुड़ाव भारत से बढ़ा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस बार कोरोना काल में भारत के लोगों ने शानदार काम किया है और ये लोग आस पास के लोगों के प्रति मददगार दिखे.
Posted by khaskhabar

उन्होंने कहा कि इस बार कोरोना काल में भारत के लोगों ने शानदार काम किया है और ये लोग आस पास के लोगों के प्रति मददगार दिखे. इस दौरान भारत के लोगों ने सेवा भाव का परिचय दिया है. बता दें कि इस बार प्रवासी भारतीय दिवस का विषय आत्मनिर्भर भारत है.

भारत का लोकतंत्र सबसे जीवंत

प्रधानमंत्री ने कहा कि दुनिया गवाह है कि जब भी भारत के सामर्थ्य को सवालिया निशानों से देखा गया है तो हर बार भारतीयों ने इसे गलत साबित किया है. जब भारत पराधीन था तो यूरोप में लोग कहते थे कि भारत आजाद नहीं हो सकेगा. लेकिन भारतीयों ने इसे गलत साबित कर दिया. जब भारत आजाद हो गया तो पश्चिम के लोग कहते थे कि इतना गरीब देश एक साथ नहीं रह पाएगा, यहां लोकतंत्र का प्रयोग सफल नहीं हो पाएगा, लेकिन भारत ने इसे भी गलत साबित कर दिया. पीएम मोदी ने प्रवासी भारतीयों से कहा कि आज भारत का लोकतंत्र सबसे सफल, सबसे जीवंत है. पीएम मोदी ने कहा कि आज भारत का लोकतंत्र दुनिया में उदाहरण बन गया है.

भारत में वैक्सीन का सबको इंतजार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज भारत के वैक्सीन का इंतजार सबको है. पीएम ने कहा कि भारत के सामर्थ्य का लाभ सभी को मिलता है, पीएम ने कहा कि देश में ही बने दो वैक्सीन के साथ भारत मानवता के हित में कार्य करने हेतु तैयार है. पीएम ने कहा कि कोविड के समय में भी कई नए टेक स्टार्टअप्स भारत से ही निकल कर आए हैं. भारत ने एक बार फिर अपने सामर्थ्य का परिचय दे दिया.

यह भी पढ़े—सिलतरा की इस्पात फैक्टरी के ऑयल टैंक में धमाका,फैक्ट्री में लगी भीषण आग 100 फीट तक उठीं लपटें

भारत निर्माण में आपका भी योगदान

जब भारत ने उपनिवेशवाद के खिलाफ अपना संघर्ष शुरू किया, तो दुनिया के कई देशों ने इससे प्रेरणा ली। जब भारत ने आतंकवाद के खिलाफ अपनी लड़ाई शुरू की, तो दुनिया को इस चुनौती का सामना करने की नई ताकत मिली। आज भारत प्रौद्योगिकी का उपयोग भ्रष्टाचार को हराने के लिए कर रहा है। लाखों और करोड़ों रुपये सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में स्थानांतरित किए जा रहे हैं। आज भारत का अंतरिक्ष कार्यक्रम और टैक्स स्टार्ट-अप इको-सिस्टम वैश्विक क्षेत्र में अग्रणी है। COVID के दौरान भी, भारत से कई नए यूनिकॉर्न और टेक स्टार्ट-अप शुरू हुए।’

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|