former-prime-minister-manmohan-singh-got-corona-actress-kavita-kaushik-said--people-did-not-understand-them
राष्ट्रीय

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को हुआ कोरोना, क्यों ट्रोलर्स के निशाने पर आई कविता कौशिक जानिए वजह

Khaskhabar/कोरोना महामारी के कारण देश की स्थिति काफी बिगड़ गई है वही देश के पूर्व पीएम मनमोहन सिंह कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, जिसके पश्चात् उन्हें दिल्ली एम्स के ट्रॉमा सेंटर में एडमिट कराया गया है। पीएम नरेंद्र मोदी से लेकर ममता बनर्जी, राहुल गांधी तथा अरविंद केजरीवाल समेत कई नेताओं ने उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है। इसके साथ ही कई बॉलीवुड स्टार्स ने भी ट्वीट कर उनके बेहतर होने के लिए ट्वीट किया है। वहीं इस बीच टीवी अभिनेत्री कविता कौशिक का ट्वीट वायरल हो रहा है।

Khaskhabar/कोरोना महामारी के कारण देश की स्थिति काफी बिगड़ गई है वही देश के पूर्व पीएम मनमोहन सिंह कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, जिसके पश्चात् उन्हें दिल्ली एम्स के ट्रॉमा सेंटर में एडमिट कराया गया है। पीएम नरेंद्र मोदी से लेकर ममता
Posted by khaskhabar

कविता कौशिक के ट्वीट ने खींचा लोगों का ध्यान

इसी बीच एक्ट्रेस कविता कौशिक ने एक ट्वीट किया जो काफी वायरल हो रहा है. कविता का यह ट्वीट किस ओर इशारा कर रहा है, यह कहना मुश्किल है, लेकिन लोगों से उन्होंने अपने मन की बात कही है. कविता ने लिखा है, “तुम डॉ. मनमोहन सिंह को न समझ पाए न वैल्यू कर पाए, किसी और को क्या ही करोगे? प्यारे देशवासियों?” ” इसके साथ ही कविता कौशिक ने हाथ जोड़ने वाली इमोजी बनाई है.

फैन्स कर रहे रिएक्ट

वही कविता के इस ट्वीट पर प्रशंसक अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। कुछ पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के जल्द स्वस्थ होने के लिए ट्वीट कर रहे हैं तो कुछ कविता को ही ट्रोल करने लगे हैं। एक उपयोगकर्ता ने कविता पर निशाना साधते हुए लिखा है कि कृपया आप अधिक ज्ञान न दें, सब आपकी भांति मूर्ख नहीं होते। इसके अतिरिक्त एक और यूजर ने लिखा कि आप बहुत अधिक अकलमंद लगते हो।

यह भी पढ़े –कर्फ्यू में ट्रेन छूट रही थी,तो शख्स ने 112 डायल कर बुला ली पुलिस, जानिए फिर क्या हुआ?

रविवार को लिखी थी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिठ्ठी

कोरोना के बढ़ते मामलों के दौरान पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पीएम नरेंद्र मोदी को चिठ्ठी लिकखर कहा था कि सरकार को यह बताना चाहिए कि अलग-अलग वैक्सीन को लेकर क्या आदेश हैं और अगले छह महीनों में डिलीवरी होने का क्या स्टेटस है? उन्होंने यह भी कहा कि सरकार को यह संकेत देना चाहिए कि पारदर्शी फॉर्मूले के आधार पर राज्यों में उनकी अपेक्षित आपूर्ति को कैसे वितरित किया जाएगा?  

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|