दुनिया

पाकिस्तान में आया धर्म परिवर्तन का एक और मामला, कोर्ट ने महिला को उसके मुस्लिम पति के साथ जाने का आदेश दिया

कराची |पाकिस्तान में अल्पसंखयक समुदाय के साथ हो रही ज्‍यादतियों के मामला थमने का नाम नहीं ले रहे है | बीते गुरुवार को पाकिस्तान में धर्म परिवर्तन का एक और वाकया सामने आया है | महिला के परिजनों ने आरोप लगाया है की उसका जबरन इस्लाम कबूल कराके धर्म परिवर्तन कराया गया है लेकिन बलूचिस्तान की एक न्यायिक कोर्ट ने महिला को उसके मुस्लिम पति के साथ रहने का आदेश सुनाया|

पाकिस्तान में हिंदू लड़की का धर्म ...

कोर्ट ने फरियादी परिवार की दलील को अनसुना कर दिया | रिपोर्ट के मुताबिक, दक्षिणी सिंध प्रांत के गढ़ी साभायो की रहने वाली रेशमा 17 जून को घर से बहार जाने के बाद लापता हो गयी थी| जिसके बाद उसके परिजनों ने दिल मुराद चांदिओ पर अपहरण और शादी करने के लिए उसे जबरन इस्लाम धर्म कुबूल कराने का संदेह जताया था। बागरी समुदाय से आने वाली रेशमा कोर्ट में अपने पति के साथ पेश हुई |

पाकिस्तान
source -ANI

यह फैसला अदालत ने महिला के बयान के बाद दिया है जिसमे रेशमा ने कोर्ट को बताया है की उनकी उम्र 20 साल से ज्यादा है और उन्होंने अपनी मर्ज़ी से शादी की है उसके बाद कोर्ट ने रेशमा को पति के साथ जाने की अनुमति दे दी है |
सिंध के दक्षिड़ी प्रान्त में बड़ी संख्या में हिन्दू लड़कियों को जबरन इस्लाम कबूल करवाने जाने के खिलाफ हिन्दू नेताओं ने विरोध प्रदर्शन किया है | उनका कहना है की ज्यादातर मामलो में लड़की को बदूक की नोक पर रख कर इस्लाम कबूल करवाया जाता है और हाल में ही पाकिस्तान पंजाब प्रान्त के यौहानाबाद इलाके की एक ईसाई महिला को मुस्लिम युबक ने बन्दूक की नोक पर अगवा किया था|

यह भी पढ़े — यूपीए सरकार ने PM राहत कोष से राजीव गाँधी फाउंडेशन को दिए थे करोडो रूपए, जेपी नड्डा ने किया खुलासा