राष्ट्रीय

निकिता हत्‍याकांड:पूर्व विधायक शारदा राठौर ने निकाला बल्लभगढ़ में विरोध मार्च,दोषियों को सख्‍त सजा देने की मांग

Khaskhabar/निकिता हत्‍याकांड:छात्रा निकिता हत्याकांड के विरोध में शनिवार को बल्लभगढ़ बाजार में मार्च निकाला गया। प्रदर्शनकारी हाथों में तख्तियां लिए हुए नारेबाजी करते रहे। पूर्व विधायक शारदा राठौर के नेतृत्व में मोहना रोड स्थित कार्यालय से शुरू हुआ विरोध मार्च और मुख्य बाजारों से होता हुआ नैशनल हाइवे पर पहुंचा। जहां प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने निकिता के घर जाने से रोक दिया। इस दौरान लोग लगातार नारे लगाकर हत्यारों के लिए फांसी की मांग करते रहे।

Khaskhabar/निकिता हत्‍याकांड:छात्रा निकिता हत्याकांड के विरोध में शनिवार को
Posted by khaskhabar

मस्जिद में उठी निकिता के लिए न्याय की मांग

ऊंचा गांव के जामा मस्जिद में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने निकिता हत्याकांड के दोषियों को सख्त सजा देने की मांग की। मस्जिद परिसर में एकत्रित लोगों ने नारेबाजी करते हुए कहा कि मजहब में इस तरह हत्या जायज नहीं है। मामले में उच्च स्तरीय जांच के साथ पीड़िता के परिवार को न्याय मिलना चाहिए।

Khaskhabar/निकिता हत्‍याकांड:छात्रा निकिता हत्याकांड के विरोध में शनिवार को
Posted by khaskhabar

निकिता हत्‍याकांड:पूर्व विधायक शारदा राठौर ने बल्लभगढ़ में विरोध मार्च निकाला

पूर्व विधायिका शारदा राठौर द्वारा सैकड़ों लोगों के साथ सड़कों पर निकिता हत्याकांड को लेकर विरोध मार्च निकाला जा रहा है । जोरदार नारेबाजी करते हुए विरोध मार्च में शामिल लोगों ने जमकर नारेबाजी की और दिखता के हत्यारों को फांसी देने की मांग की ! यह विरोध मार्च जब शहर से होता हुआ निकिता के घर की तरफ जाने लगा तो पुलिस ने रास्ते में ही इस विरोध मार्च को रोक दिया।

यह भी पढ़े—दिल्ली में हाई अलर्ट घोषित, आतंकी खतरे की आशंका के मद्देनजर बढ़ाई सुरक्षा

बेटियों की सुरक्षा के लिए धरातल पर काम करे प्रशासन : शारदा

निकिता हत्याकांड के विरोध में शनिवार को पूर्व मुख्य संसदीय सचिव व पूर्व विधायक शारदा राठौर के नेतृत्व में बाजार में विरोध मार्च निकला। राष्ट्रीय राजमार्ग पर पुलिस ने निकिता के घर जा रहे प्रदर्शनकारियों को रोक दिया, जिस पर पूर्व विधायक व पुलिस अधिकारियों के बीच झड़प भी हुई। शारदा राठौर ने इस मौके पर कहा कि निकिता हत्याकांड से सभी लोग स्तब्ध व सहमे हुए हैं। अभिभावकों में अपनी बेटियों की सुरक्षा को लेकर चिता है। इस तरह के अपराधों से लड़कियों की शिक्षा पर भी प्रतिकूल असर पड़ेगा। महिला सुरक्षा के लिए गठित की गई दुर्गा शक्ति वाहिनी को कागजों से निकालकर धरातल पर सक्रिय किया जाए।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है |