राष्ट्रीय

‘नायक’ फिल्म की तरह आज उत्तराखंड को मिलेगा नया मुख्यमंत्री, एक दिन की सीएम बनेंगी हरिद्वार की सृष्टि

Khaskhabar/उत्तराखंड को मिलेगा नया मुख्यमंत्री.उत्तराखंड के इतिहास में आज का दिन एक खास वजह के लिए याद किया जाएगा। दरअसल आज राज्य को एक नया मुख्यमंत्री मिलने जा रहा है और वह भी एक दिन के लिए। जी हां, खुद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस नए नाम को अपनी मंजूरी दे दी है। शायद देश के इतिहास में भी इस तरह का यह पहला मौका होगा जब मुख्यमंत्री के रहते हुए कोई दूसरा एक दिन के लिए राज्य का मुख्यमंत्री बनेगा। मुख्यमंत्री रावत की मंजूरी के बाद हरिद्वार की रहने वाली सृष्टि एक दिन के लिए राज्य की मुख्यमंत्री बनेंगी।

Khaskhabar/उत्तराखंड को मिलेगा नया मुख्यमंत्री.उत्तराखंड के इतिहास में आज का दिन एक खास वजह के लिए याद किया जाएगा। दरअसल आज राज्य को एक नया मुख्यमंत्री मिलने जा रहा है और वह भी एक दिन के लिए। जी हां, खुद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस नए नाम को अपनी मंजूरी दे दी है। शायद देश के इतिहास में भी इस
Posted by khaskhabar

कौन है सृष्टि

19 साल की सृष्टि हरिद्वार के दौलतपुर गांव की रहने वाली हैं और रुड़की के BSM पीजी कॉलेज से ‌BSc एग्रिकल्चर में 7वें सेमेस्टर की छात्रा हैं। उनके पिता प्रवीण पुरी की गांव में छोटी सी दुकान है और मां सुधा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हैं।

राष्ट्रीय बालिका दिवस के विशेष अवसर पर एक दिन के लिए पहाड़ी राज्य की कमान संभालने वाली सृष्टि वह बीएसएम पीजी कॉलेज रुड़की में बीएससी (कृषि) सातवें सेमेस्टर की छात्रा है और हरिद्वार जिले के दौलतपुर गांव की निवासी है। मई 2018 में, वह उत्तराखंड बाल विधानसभा की मुख्यमंत्री बनीं थी। उनके पिता प्रवीण पुरी एक परचून की दुकान चलाते हैं, जबकि उनकी माँ सुधा गोस्वामी एक गृहिणी हैं। सृष्टि के पिता इस कदर खुश हैं कि वो अपनी खुशी को बयां नहीं कर पा रहे हैं। प्रवीण पुरी कहते हैं कि आज उनका सर गर्व से ऊंचा हो गया।

Khaskhabar/उत्तराखंड को मिलेगा नया मुख्यमंत्री.उत्तराखंड के इतिहास में आज का दिन एक खास वजह के लिए याद किया जाएगा। दरअसल आज राज्य को एक नया मुख्यमंत्री मिलने जा रहा है और वह भी एक दिन के लिए। जी हां, खुद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस नए नाम को अपनी मंजूरी दे दी है। शायद देश के इतिहास में भी इस
Posted by khaskhabar

बच्चों की पढ़ाई के लिए प्रेरणा बनीं

सृष्टि गोस्वामी को इससे पहले 2018 में हुई बाल विधानसभा में कानून निर्माता चुना गया था। साल 2019 में वह गर्ल्स इंटरनैशनल लीडरशिप कार्यक्रम में थाइलैंड में भारत की अगुआई कर चुकी हैं। वह दो साल से ‘आरंभ’ नामक योजना चला रही हैं। इसमें इलाके के गरीब बच्चों खासकर लड़कियों को पढ़ाई के लिए प्रेरित कर रही हैं।

सृष्टि फिर रावत सरकार में चला रही योजनाओं जैसे आयुष्मान योजना, स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट, होम स्टे आदि की समीक्षा करेंगी। इस दौरान सृष्टि के सामने करीब एक दर्जन विभागीय अधिकारी अपने-अपने प्रोजेक्ट से जुड़ा 5-5 मिनट का प्रेजेंटेशन देंगे। सृष्टि खुद बाल विभाग पर प्रेजेंटेशन देंगी।

यह भी पढ़े—NoteBandi:क्या आपके पास भी है 5, 10 और 100 रुपये के नोट, RBI कर रहा है बंद करने की तैयारी

अधिकारी देंगे प्रजेंटेशन

हरिद्वार के बहादुराबाद ब्लॉक के दौलतपुर गांव की रहने वाली किशोरी सृष्टि गोस्वामी रविवार यानी आज एक दिन के लिए उत्तराखंड की मुख्यमंत्री बनने की तैयारी में हैं। राष्ट्रीय बालिका दिवस 2021 के मौके पर सृष्टि एक दिन के लिए सीएम की कुर्सी पर काबिज होंगी और दौरान वह राज्य में हुए विकास कार्यों की समीक्षा करेंगी और इस दौरान अधिकारी उन्हें इन कार्यों की प्रजेंटेशन भी देंगे।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|