राष्ट्रीय

टिड्डियों पर बोले कृषी राज्य मंत्री- अगर राजस्थान सहयोग करता तो आगे नहीं बढ़ पाती टिड्डियां

कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा है कि यदि राजस्थान सरकार सहयोग करती, तो टिड्डियां प्रदेश से आगे नहीं बढ़ पाती। उनपर वहीं काबू पा लिया जाता।उन्होंने कहा कि टिड्डियों का सही ढंग से नियंत्रण केवल सीमा से सटे इलाको में ही हो सकता है। समाचार एजेंसी आइएएनस से खास बातचीत में उन्होंने कहा अगर राजस्थान सरकार सहयोग करती तो यह कार्य अधिक प्रभावी ढंग से किया जा सकता था।

टिड्डियां
source-google image

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने राजस्थान में टिड्डियों पर नियंत्रण के लिए 14 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता के बावजूद इनको रोकने के लिए आवश्यक उपाय नहीं किये | जिससे टिड्डिया पाकिस्तान के इलाकों से राजस्थान में प्रवेश कर गयी |

दरहसल एक तरफ जहा कोरोना महामारी के केसेस बढ़ते ही जा रहे है ,अनुमान है की जुलाई के महीने मे यह केसेस अपने चरम पर होंगे इसी बीच टिड्डियों ने एक नई समस्या पेश की है, जो दिल्ली सहित देश के अबतक 10 राज्यों में लगभग 90 जिलों तक पहुंच गई है और भरी मात्रा में खरीफ की फसलों को नुकसान पहुंचा रही है|

टिड्डियों
केंद्रीय कृषी राज्य मंत्री

प्रभावी ढंग से टिड्डी गैंग नियंत्रित करने की कोशिश मंत्री से यह पूछे जाने पर कि क्या राज्य सरकारें टिड्डियों से निपटने में विफल रही हैं, उन्होंने कहा कि सरकार अपनी तरफ से पूरी कोशिशे कर रही है ,टिड्डी गैंग से निजात पाने की |उन्होंने बताया की राजस्थान सहित सभी अन्य राज्य उन्हें प्रभावी ढंग से नियंत्रित करने की कोशिश में जुटे हुए है ।

यह भी पढ़े-चीन को सबक सीखने के लिए भारत ने LAC पर की आकाश मिसाइल की तैनाती, जानिए इसकी खूबी

ड्रोन के द्वारा हवाई छिड़काव

उन्होंने कहा कि ड्रोन के द्वारा हवाई छिड़काव किया जा रहा है| साथ ही टिड्डियों को नियंत्रित करने के लिए माइक्रोनियर स्प्रेयर जैसी हाई-टेक मशीनें इस्तेमाल हो रही हैं। जल्द ही हेलीकॉप्टरों की मदद से भी हवाई छिड़काव किया जाएगा। उन्होंने कहा कि माइक्रोनेयर की तर्ज पर स्वदेशी तकनीक वाली स्प्रेयर मशीन विकसित की गई है|

जिसका सफल परीक्षण किया जा चुका है और इसलिए टिड्डियों को नियंत्रित करने के लिए आगे उपकरण आयात करने की जरूरत नहीं होगी।साथ ही मे लोगो के द्वारा भी तेज साउंड सिस्टम्स बजाये जा रहे है ताकि टिड्डी दाल रिहायसी इलाको मे घुस लोग को परेशानी न पहुचाये |