दुनिया

जॉनसन एंड जॉनसन पाउडर पर लगा 120 मीलियन डॉलर का हर्जाना, महिला ने पाउडर से कैंसर होने लगाया था आरोप

Khaskhabar/जॉनसन एंड जॉनसन को एक न्यूयॉर्क स्टेट जज ने कंपनी के बेबी पाउडर केस में 120 मिलियन डॉलर का हर्जाना देने का आदेश दिया है। आदेश के मुताबिक, कंपनी को यह हर्जाना ब्रूकलीन की एक महिला और उसके पति को देना होगा। इस महिला ने जॉनसन एंड जॉनसन के बेबी पाउडर के इस्तेमाल से कैंसर होने का आरोप लगाया था। महिला के वकील ने कोर्ट को बताया कंपनी को 1970 से पता था कि उनके टैल्कम पाउडर में हानिकारक केमिकल्स हैं जिनसे सेहत को नुकासन पहुंच सकता है, मगर कंपनी ने इस बात को छुपाकर रखा।

Khaskhabar/जॉनसन एंड जॉनसन को एक न्यूयॉर्क स्टेट जज ने कंपनी के बेबी
Posted by khaskhabar

सेहत पर इसका बेहद खराब असर पड़ा

दुनिया की सबेस मशहूर कंपनी में से एकजॉनसन एंड जॉनसन पिछले कुछ समय से विवादों में है। दरअसल बच्चों के लिए शैंपू,पाउडर औऱ क्रीम जैसी चीजें बेचे वाली इस कंपनी पर उनके उपभोक्ताओं ने आरोप लगाए थे कि इनका इस्तेमाल करने से उनकी सेहत पर इसका बेहद खराब असर पड़ा है। कंपनी के प्रोडक्ट्स इस्तेमाल करने वाले कई ग्राहकों ने कंपनी पर कई गंभीर लगाए हैं जिसमें खतरनाक केमिकल्स का उपयोग सबसे मुख्य और आम है।

Khaskhabar/जॉनसन एंड जॉनसन को एक न्यूयॉर्क स्टेट जज ने कंपनी के बेबी
Posted by khaskhabar

मैनहेटन में स्टेट सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस गेराल्ड लेबोविट्स ने, मई 2019 में 14 हफ्ते के ट्रायल के बाद डोना ओल्सन, 67 और रॉबर्ट ओल्सन, 65 के लिए एक जूरी की तरफ से घोषित 325 मिलियन डॉलर की राशि को कम कर दिया. लेबोविट्स ने 11 नवंबर को लिखा कि हर्जाने की राशि बहुत ज्यादा थी, और ओल्सन दंपती या तो 120 मिलियन डॉलर स्वीकार कर सकते हैं या हर्जाने को लेकर नया मुकदमा कर सकते हैं।

कंपनी पर 120 मिलियन डॉलर का जुर्माना

यह मामला कुछ साल पहले का बताया जा रहा है। केस करने वाली महिला ने कंपनी पर आरोप लगाया था कि वह काफी समय से जॉनसन के टेल्कम पाउडर का इस्तेमाल करने से उसके स्वास्थ्य को बड़ा नुकसान हुआ है। कोर्ट ने महिला के दावे को सही माना है और कंपनी पर 120 मिलियन डॉलर का जुर्माना लगाया गया है।

बताते चलें कि इससे पहले भी इसी तरह का एक मामला समाने आ चुका है। लेकिन कंपनी ने इसे दबाने की कोशिश की थी। वहीँ, कंपनी पर उसके बेबी पाउडर में कैंसर कारक तत्व मौजूद होने के 15 हजार से अधिक केस अब तक किए जा चुके हैं। बता दें, बेबी पाउडर की वजह से मेसोथलिओमा हो गया जोकि एक आक्रामक कैंसर है।

यह भी पढ़े—Court ने UP की 100 साल की बुजुर्ग महिला से रेप के दोषी को सुनाई उम्रकैद,तीन साल पहले हुई थी वहशत

कंपनी के ऊपर 15 हजार से अधिक केस

भारत में भी जॉनसन एंड जॉनसन के शैंपू में कैंसरकारी तत्वों की पहचान की गई थी। राजस्थान ड्रग कंट्रोल की रिपोर्ट में बेबी शैंपू में कैंसरकारक तत्व पाए गए, जो घातक कैंसर का कारण हो सकते थे।गौरतलब है कि कंपनी पर उसके बेबी पाउडर में कैंसर कारक तत्व मौजूद होने के आरोप हैं। कंपनी के ऊपर 15 हजार से अधिक केस हैं, जिसमें कहा गया है बेबी पाउडर की वजह से मेसोथलिओमा हो गया जोकि एक आक्रामक कैंसर है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है |