राष्ट्रीय

ज़मानत के लिए RJD सुप्रीमो लालू यादव करेंगे जेल में नए साल का स्वागत,अर्ज़ी पर सुनवाई 6 हफ्ते के लिए टली

Khaskhabar/झारखंड हाईकोर्ट ने चारा घोटाले के एक मामले में राजद प्रमुख लालू यादव की जमानत याचिका पर सुनवाई उनके वकील के अनुरोध पर छह सप्ताह के लिए स्थगित कर दी। हाईकोर्ट की कार्यवाही प्रारंभ होते ही यादव के अधिवक्ता देवर्षि मंडल ने अपने मामले का उल्लेख कर सुनवाई के लिए छह सप्ताह बाद का समय निर्धारित करने का अनुरोध किया, जिस पर केन्द्रीय जांच ब्यूरो के अधिवक्ता ने भी रजामंदी जतायी।

Khaskhabar/झारखंड हाईकोर्ट ने चारा घोटाले के एक मामले में राजद प्रमुख लालू
Posted by-Khaskhabar

यादव के अधिवक्ता के अनुरोध और सीबीआई की रजामंदी के बाद जस्टिस अपरेश कुमार सिंह की पीठ ने दुमका कोषागार से गबन से जुड़े चारा घोटाले के इस मामले में लालू की जमानत याचिका पर सुनवाई छह सप्ताह बाद निर्धारित करने के निर्देश दिये। अब जमानत याचिका पर सुनवाई 22 जनवरी को होगी।

यादव ने लगातार जेल नियमावली का उल्लंघन किया

सीबीआई ने बृहस्पतिवार को एक पूरक हलफनामा दाखिल कर कहा था कि यादव ने लगातार जेल नियमावली का उल्लंघन किया है और उनकी तबियत अब स्थिर है लिहाजा उन्हें रिम्स से बिरसा मुंडा जेल भेज दिया जाना चाहिए।

Lalu Prasad Yadav Jail News Khaskhabar/झारखंड हाईकोर्ट ने चारा घोटाले के एक मामले में राजद प्रमुख लालू
Posted by khaskhabar

शुक्रवार को होने वाली सुनवाई को छह हफ्तों के लिए टाल दिया गया है. ख़बरों के मुताबिक, सुनवाई को इसलिए टाला गया, क्योंकि लालू प्रसाद यादव की सज़ा का आधा वक्फा खत्म नहीं हुआ है, और जल्दी रिहाई के लिए यह ज़रूरी शर्त है. इस वक्फे के पूरा होने में 40 दिन शेष हैं.

इससे पहले यह सुनवाई इसलिए टली थी, क्योंकि CBI ने झारखंड हाईकोर्ट में अपना पक्ष दाखिल नहीं किया था. भ्रष्टाचार के मामले में चार साल की कैद की सज़ा काट रहे लालू प्रसाद यादव को कई अन्य मामलों में ज़मानत मिल चुकी है. यह लालू प्रसाद यादव के खिलाफ आखिरी मामला है, और इस बार उन्हें इसमें भी ज़मानत पर रिहा हो जाने की उम्मीद है.

लालू प्रसाद यादव के वकील प्रभात कुमार ने मीडिया को बताया

आज दुमका ट्रेजरी से अवैध रूप से 139 करोड़ रुपये की निकासी से जुड़े मामले पर सुनवाई हुई, जिसमें रांची हाईकोर्ट ने लालू प्रसाद यादव की आधी सजा पूरी हो जाने की दलील से संबंधित कागजात मांगे थे, लेकिन सीबीआइ की निचली अदालत से इसकी सर्टिफाइड कॉपी अभी तक नहीं मिली है. लालू प्रसाद यादव के वकील प्रभात कुमार ने मीडिया को बताया कि इसके लिए अपील की गई है, उम्‍मीद है कि यह जल्‍दी मिल जाएगी. फिर, इसे हाईकोर्ट को दिया जाएगा.

यह भी पढ़े—फसल के बीच गांजे की खेती करने की सूचना पर क्राइम ब्रांच धार और नालछा पुलिस की कार्रवाई, तीन आरोपी गिरफ्तार

सजा पाए तीन मामलों में लालू को जमानत

बता दें कि चारा घोटाला के पांच मामलों में से चार में लालू प्रसाद यादव को सजा मिल चुकी है, जबकि, डोरांडा कोषागार के एक मामले में निचली अदालत में सुनवाई चल रही है. सजा पाए तीन मामलों में लालू को जमानत मिल चुकी है, इसलिए दुमका कोषागार के मामले में भी जमानत मिलने की स्थिति में तय है कि वे जेल से बाहर आ जाएंगे.

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है |