राष्ट्रीय

गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स से पीछे हटी चीनी सेना, आज फिर होगी उच्च स्तर की वार्ता

पूर्वी लद्दाख में वस्त्याविक नियंत्रित रेखा (LAC) पर गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स पोस्ट इलाके से चीन सेना गुरुवार को पूरी तरह पीछे हाथ गयी है | इसके तहत ही पहले चरण में तय किये गए स्थानों से दोनों सेनाओं ने पीछे हटने की प्रक्रिया पूरी हो गयी है | भारतीय सेना पुरे स्थिति पर अपनी पैनी नज़र बनाये हुए है और इस बार की भी हिमाकत से निपटने के लिए पुरे तरह से तैयार है और इसके साथ ही अगले राउंड की बातचीत के लिए दोनों पक्ष शुक्रवार को ऑनलाइन बात करेंगे|

गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स

चीन ने पुरे गलवान घाटी पर जताया था हक़

भारतीय विदेश मंत्रालय ने बुधवार को अपनी बात को दोहराते हुए बताया की गलवान घाटी हमेशा से भारत का हिस्सा था और रहेगा और इसके साथ ही चीन के दावे को सिरे से ख़ारिज कर दिया |भारत अपनी अपनी संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है।
सूत्रों के मुताबिक दोनों देशो ने 3 किमी का बफर जोन तैयार किया है ताकि भविष्य में ऐसे घटना कम ही हो | चीन सेना गलवान घाटी, गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स से पीछे हाथ गयी है और चीन ने गुरुवार को पेट्रोलिंग पॉइंट 17 से अपनी सेना को पीछे बुला लिया है |
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने बताया की रविवार को हुई एनएसए अजित डोवाल और चीन विदेश मंत्री के बीच लगभग 2 घंटे तक चली बातचीत में भारत ने अपना रुख साफ़ कर दिया है की भारत (LAC) पर किसी भी तरह की स्तिथि में बदलाव स्वीकार नहीं करेगा |

गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स
sources — Times Now

यह भी पढ़े — Study Survey:टीवी पर होगी शुरू पढ़ाई, घर-घर पहुंची सर्वे टीम

दूसरे चरण की प्रक्रिया तय करने को बैठक

एलएसी पर सेना हटाने की अगले दौर की वार्ता शुक्रवार को पूर्वी एशियाई मामलों के संयुक्त सचिव नवीन श्रीवास्तव चीनी विदेश मंत्रालय के महानिदेशक वू जियांघाओ से चर्चा करेंगे। और अगले हफ्ते कोर कमांडर स्तर की भी बातचीत हो सकती है |