coronil
स्वास्थ

करोनिल: राजस्थान के बाद अब महाराष्ट्र ने भी लगाया पतंजलि की दवा पर प्रतिबन्ध

उत्तराखंड| पतंजलि के संस्थापक एवं योग गुरु बाबा रामदेव की दवा करोनिल पर राजस्थान सरकार के बाद महाराष्ट्र में भी बिक्री पर प्रतिबन्ध लग गया है | इस बात की सूचना राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने दी उन्होंने बताया की पतंजलि की दवा करोनिल के क्लीनिकल ट्रायल के सबूत अभी तक उपलब्ध नहीं कराये गए है |

करोनिल
source – Google

अनिल देशमुख ने गुरुवार को ट्ववीट करके कहा की “नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस, जयपुर इस की जांच करके बताये की करोनिल के क्लीनिकल ट्रायल हुए थे या नहीं एवं इसके क्या परिणाम थे”| उन्होंने अपने टवीट में बाबा रामदेव को चेतावनी देते हुए कहा की वो अपने प्रदेश में नकली दवाओं की बिक्री की बिलकुल इजाजत नहीं देंगे

आपको बता दे आयुष मंत्र की आपत्ति के बाद राजस्थान पहले राज्य था जिसने करोनिल की बिक्री पर रोक लगा दी थी| अशोक गेहलोत की सरकार ने कहा था की बिना आयुष मंत्रालय की अनुमति के बगैर हम किसी भी Covid -19 दवाई को उनके राज्य में अनुमति नहीं देंगे एवं नहीं ही इसका बिक्रय किया जा सकता है |

source – india today

इससे पहले आयुष मंत्रालय ने रामदेव के दावों पर सवाल उठाए थे। इसके प्रचार-प्रसार पर रोक लगाई गई और दवा की जांच करने की बात कही गई थी। सरकार ने पतंजलि से दवा को लेकर जानकारी मांगी थी। 

इस सम्बन्ध में पतंजलि योगपीठ का कहना की आयुष मंत्रालय ने कोरोनिल से सम्बंधित कुछ जानकारिया मांगी थी जिसे पतंजलि ने उपलब्ध करा दिया है | मंत्रालय की आपत्ति के बाद उत्तराखंड आयुष विभाग ने बुधवार को पतंजलि को नोटिस जारी कर दिया है।उत्तराखंड आयुष विभाग ने बुधवार को नोटिस जारी करके जवाब माँगा है की जब हमने आपको इम्युनिटी बूस्टर का लाइसेंस दिया है तो आप किस आधार पर कोरोना दवा बनाने का दावा किया गया |

यह भी पढ़े —– उत्तर प्रदेश के औरैया में जल्द बनेगा ट्रामा सेंटर, 2 करोड़ 64 लाख की आएगी लागत