दुनिया

अब नार्थ कोरिया के हैकर्स ने किया इजराइल डिफेंस इंडस्ट्री पर Cyber Attack, जानिए

नार्थ कोरिया के हैकर्स दुनिया भर में डाटा चोरी के लिए जाने जाते है और ऐसे कई खबरे पढ़ने को मिलती है की नार्थ कोरिया के हैकर्स ने डाटा के साथ ही साथ cryptocurrency की चोरी की। इजराइल रक्षा उद्योग से जुडी एक कंपनी ने इस बात का खुलासा किया है की नार्थ कोरिया के एक हैकर संगठन ने उनके डिफेन्स इंडस्ट्री पर Cyber Attack किया है। इस हमले में हैकर्स ने कंप्यूटर में एंटर करने के कोशिश की लेकिन इस Cyber Attack को टाइम रहते ही रोक दिया गया जिससे कंप्यूटर सिस्टम को ज्यादा नुक्सान का सामना नहीं करना पड़ा। इजराइल के रक्षा मंत्रालय ने ने बयान जारी करते हुए कहा की इस हमले को समय रहते नाकाम कर दिया गया था।

Cyber Attack
Posted bY – Khas Khabar

इस हमले की जानकारी देने वाली साइबर सिक्योरिटी फर्म क्लेक्सकी के सुरक्षा शोधकर्ताओ ने बताया की नार्थ कोरियाई हैकर्स ने सिस्टम में प्रवेश किया और बड़ी मात्रा में डाटा चोरी करने की कोशिश की। इसरायली अधिकारिओ को डर है की यह डाटा नार्थ कोरिया ईरान के साथ साझा कर सकते हैं।

यह भी पढ़े — Atal Bihari Vajpayee:पूर्व प्रधानमंत्रीअटल जी की दूसरी पुण्यतिथि पर , श्रद्धांजलि देने पहुंच रहे राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी

इससे पहले नॉर्थ कोरिया के हैकर्स कई और देशों पर इस तरह से Cyber Attack कर चुके हैं। नॉर्थ कोरिया के इस ग्रुप को लाजर ग्रुप के रूप में जाना जाता है। अमेरिकी और इजरायली अधिकारियों ने कहा है कि लाजर समूह, जिसे हिडन कोबरा के रूप में भी जाना जाता है, प्योंगयांग द्वारा समर्थित है। ये ग्रुप ही इस तरह का हमला कर सकता है।

बांग्लादेश बैंक से 81 मिलियन डॉलर की 2016 की साइबर-चोरी, सोनी पिक्चर्स एंटरटेनमेंट के 2014 के साइबर हमले में उसे ध्वस्त करने का मामला भी शामिल है। उस हमले में स्टूडियो के कंप्यूटर सर्वर के दो-तिहाई से अधिक डेटा नष्ट हो गए थे। नॉर्थ कोरिया की 6,000 से अधिक हैकर्स की एक अलग सेना है। समूह पर नजर रखने वाले अमेरिकी और ब्रिटिश अधिकारियों के अनुसार समय के साथ इस हैकिंग ग्रुप ने भी अपने को एडवांस कर लिया है।

Cyber Attack
Posted By – Khas Khabar

नॉर्थ कोरिया के हैकरों ने अब अलग तरह से हैंकिंग का तरीका अपनाया है। इसके लिए उन्होंने साल 2019 के मध्य में लिंक्डइन और व्हाट्सएप का उपयोग करना शुरू कर दिया। अगस्त में, संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में कहा गया था कि नॉर्थ कोरियाई हैकर्स ने संगठन के सदस्यों और सदस्य राज्यों पर नजर रखने के लिए इसी तरह के तरीकों का इस्तेमाल किया।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar
फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|